भगवानपुर

एसडीएम के साथ धक्का- मुक्की व सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में भगवानपुर पुलिस ने तीन लोगों को किया गिरफ्तार

भगवानपुर। एसडीएम के साथ धक्का- मुक्की करने व सरकारी कार्य में बांधा डालने के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, इसके साथ ही 8 लोगों नामजद लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, व 60 से 70 लोगों पर कार्रवाई की मांग की गई है। दरअसल भगवानपुर तहसील क्षेत्र के गांजा माजरा ग्रामीणों ने गांव के ही कुछ लोगों पर आरोप लगाया है, कि वह श्मशान घाट की भूमि पर हो रहे निर्माण कार्य को रुकवा रहे है। जिसके चलते वह उपजिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और वहां पर जमकर नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन पर बैठ गए। इस दौरान उपजिलाधिकारी वैभव गुप्ता कार्यालय में मौजूद नहीं थे, वह किसी बैठक के लिए हरिद्वार रोशनाबाद गए हुए थे।

उपजिलाधिकारी को कार्यालय के बाहर घेरकर की धक्का- मुक्की 

उपजिलाधिकारी के आने तक का ग्रामीणों ने इंतजार किया, वह तब तक धरना प्रदर्शन करते रहे, जब तक उपजिलाधिकारी वहां पर पहुंच नहीं गए। जैसे ही उपजिलाधिकारी वैभव गुप्ता कार्यालय के बाहर पहुंचे, वैसे ही ग्रामीणों ने उन्हें घेरकर उनके साथ धक्का- मुक्की करने लग गए। यह सब देख कार्यालय में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद उपजिलाधिकारी को ग्रामीणों के बीच से बाहर निकाला।

एसडीएम के पेशगार की तहरीर पर हुई गिरफ्तारी 

पूरे मामले की सूचना भगवानपुर पुलिस को दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी लोगों को शांत करवाया। इसके बाद एसडीएम के पेशगार विजयपाल सिंह ने पुलिस में तहरीर देते हुए 8 नामजद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही 60 से 70 महिला व पुरुषों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। थाना प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह द्वारा बताया गया कि तहरीर के आधार पर पुलिस ने तीन लोगों की गिरफ्तारी कर ली है, जिसमें प्रेमचंद पुत्र दयाराम, दीपक पुत्र बाबूराम, व राजेश कुमार पुत्र जगदीश शामिल है।

Aanand Dubey

superbharatnews@gmail.com, Mobile No. +91 7895558600, (7505953573)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *