हरिद्वार

युवा जागृति विचार मंच के सदस्यों की ओर से किया जा रहा आमरण अनशन लगातार जारी, छठा दिन आज

हरिद्वार। युवा जागृति विचार मंच के सदस्यों की ओर से आमरण अनशन किया जा रहा है, जिसका आज छठवां दिन है। जागृति मंच लगातार अनशन पर बैठा हुआ है। इनका कहना है कि जब तक जिले को नशा मुक्त नहीं किया जाता, तब तक यह ठीक इसी प्रकार आमरण अनशन पर बैठे रहेंगे। हरिद्वार जिले में सबसे ज्यादा नशे की खेप की जाती है, देश- प्रदेश के लोग यहां पर गंगा में डुबकी लगाने की दृष्टि से आते है, लेकिन नशे के व्यापार को भी यहां पर बढ़ावा दे जाते है। जिले में लगातार बढ़ रहे नशे से पूरा जिला बर्बादी की ओर रुख करने में लगा हुआ है।

जिले में सर्वाधिक तौर से युवा वर्ग को नशे की चपेट में देखा जा रहा है, युवाओं द्वारा अपना भविष्य बर्बाद किया जा रहा है। इस बात से इनके परिजन भी लगातार चिंतित दिखाई देते है, लेकिन अफसोस यह रहता है, कि वह चाह कर भी इनके नशे को छुड़ा नहीं पाते। जिले में लगातार बढ़ रहे नशे की खेप को देखते हुए युवा जागृति विचार मंच की ओर से यहां पर नशे के खिलाफ आमरण अनशन किया जा रहा है, जिसमें भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. जयपाल सिंह चौहान समेत कई लोग युवा जागृति मंच के सदस्यों का साथ दे रहे है, और जिले को नशा मुक्त बनाने की ओर प्रयास कर रहे है। जागृति मंच के सदस्यों की मांग है कि जिले में नशे पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया जाए, जिससे न नशे का व्यापार हो सकेगा, और न ही लोग नशे की चपेट में आएंगे।

मंच का कहना है कि प्रशासन अपनी कार्यशैली में भी बदलाव करें, साथ ही नशे पर बड़ी से बड़ी कार्रवाई भी करें। मंच के सदस्यों द्वारा बताया गया कि जिले में बढ़ते नशे को देख उन्होंने कई बार इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को दी है, लेकिन इस पर तभी भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। हालांकि पुलिस द्वारा नशे के खिलाफ कई बार अभियान चलाया गया है, लेकिन तभी भी जिले में नशे का कारोबार से लेकर युवाओं में बढ़ता नशा जरा भी कम नहीं हुआ।

इस पर मंच के सदस्यों ने कहा कि उन्हें अब मजबूरन आमरण अनशन पर बैठना पड़ा है, साथ ही कहा है कि जब तक पुलिस, प्रशासन नशे के खिलाफ कठोर कार्रवाई नहीं करता, तब तक युवा जागृति मंच आमरण अनशन जारी रखेगा। इसी के तहत युवा मंच द्वारा नशे के खिलाफ आमरण अनशन को जारी रखा गया है।

Aanand Dubey

superbharatnews@gmail.com, Mobile No. +91 7895558600, (7505953573)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *